खान एवं खनिज

लोहरदगा, खनिज पदाथों से समृद्ध जिला है| लोहरदगा जिला बॉक्साइट खनिज के नाम से जाना जाता है| यह बॉक्साइट पाखर ,हिसरी ,रुधली पाट,खामार पाट.यह गुमला और लातेहार जिला तक फैला हुआ है. जो की उतरी-पश्चिमी तक जाता है| विश्वस्तर पर लोहरदगा बॉक्साइट उत्पादन के लिए प्रसिद्ध है और उसे बॉक्साइट नगरी भी कहा जाता है.बॉक्साइट खनिज के १६ खनन पट्टे है.जिला में हिन्डाल्को इंडस्ट्री लिमिटेड के ०९ खनन पट्टे एव अन्य के 07 खनन पट्टे पारित है| जिला में वार्षिक लगभग ११ लाख टन बॉक्साइट खनिज के खनन की स्वीकृति प्राप्त है, लोहरदगा जिले के बॉक्साइट मुरी एवं रेनुकुत स्थित एलुमिनियम सयंत्र को बॉक्साइट की आपूर्ती की जा रही है, लोहरदगा जिले में भूतात्विक अन्वेषण का कार्य भी राजकीय भू-तत्व विभाग एवं भारत सरकार की संस्था एम्० ई० सी० एल० द्वारा किया जा रहा है | 16(सोलह) बॉक्साइट खनन पट्टे में से 10(दस) बंद है एवं 6(छः) कार्यरत है |

खनिजवार अनुज्ञप्तियाँ:
क्र.सं खनिज पट्टे /अनुज्ञप्तियां
1 बॉक्साइट 16
2 सामान्य पत्थर 73
3 ईंट भूमंडल 44
4 (बालू) स्थायी स्थान 11
5 (बालू) अस्थायी स्थान 9

मुख्य बॉक्साइट अनुज्ञप्ति धारक:

  • मेसर्स हिंडाल्को इंडस्ट्रीज लिमिटेड
  • मेसर्स मिनिरल्स एंड मिनिरल्स लिमिटेड